12 September 2012

इश्क पर लिखने का फैसला - आमिर


 मुझे मोहब्बत से बहुत मोहब्बत है । और इश्क के नाम से भी इश्क है । अपने बारे में सिर्फ इतना ही बताना चाहूँगा कि मैं एक गरीबुल वतनी हूँ । यानी मैं भारतीय होकर भी अपने वतने अज़ीज़ भारत से दूर दुबई में हूँ । यहाँ एक कम्पनी में मैंनेजर की पोस्ट पर कार्यरत हूँ । लिखने का शौक बचपन ही से रहा है । जब सबने ये मशवरा दिया कि - अच्छा लिखते हो । तो शेयर क्यों नही करते ? .लेकिन अब भी मुझे नहीं लगता कि - मैं कोई अच्छा लेखक बन पाया हूँ । बस आदतन लिख लिया करता हूँ । इश्क के बारे में लिखने का जब फैसला लिया । पहले ही बहुत कुछ लिखा जा चुका था । मैंने तो सिर्फ ये कोशिश की कि उर्दू भाषा में कुछ लिख कर उसे हिंदी में सब तक पहुंचाऊं । और मेरी भाषा उर्दू बोलने में और हिंदी लिखने में दोनों ही रही है । और मैं कमेंटस और टिप्पणी पर यकीन नही रखता । मेरा मानना है कि कोई कमेंटस करे । या ना करे । आप अच्छा लिखते रहें ।.लोग उसे पढ़ते हैं । यही उनका प्यार है । मै तो इसी पर खुश हूँ कि लोग मेरे कलम को पढ़ते हैं । और पसंद करते हैं । तारीफ़ नहीं करते । तो बुराई भी तो नही करते । और इनके ब्लाग है - मोहब्बत नामा एक ब्लाग सबका मास्टर्स टेक टिप्स । ब्लाग के नाम पर क्लिक करें ।
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...