20 November 2011

अष्टावक्र गीता वाणी रहस्य

अष्टावक्र त्रेता युग के महान आत्मज्ञानी सन्त हुये । जिन्होंने जनक को कुछ ही क्षणों में आत्म साक्षात्कार कराया । आप भी  इस दुर्लभ गूढ रहस्य को इस वाणी द्वारा आसानी से जान सकते हैं । इस वाणी को सुनने के लिये नीचे बने नीले रंग के प्लेयर के प्ले > निशान पर क्लिक करें । और लगभग 3-4 सेकेंड का इंतजार करें । गीता वाणी सुनने में आपके इंटरनेट कनेक्शन की स्पीड पर उसकी स्पष्टता निर्भर है । और कम्प्यूटर के स्पीकर की ध्वनि क्षमता पर भी । प्रत्येक वाणी 1 घण्टे से भी अधिक की है । इस प्लेयर में आटोमेटिक ही वाल्यूम 50% यानी आधा होता है । जिसे वाल्यूम लाइन पर क्लिक करके बढा सकते हैं । इस वाणी को आप डाउनलोड भी कर सकते हैं । इसके लिये प्लेयर के अन्त में स्पीकर के निशान के आगे एक कङी का निशान या लेटे हुये  8 जैसे निशान पर क्लिक करेंगे । तो इसकी लिंक बेवसाइट खुल जायेगी । वहाँ डाउनलोड आप्शन पर क्लिक करके आप इस वाणी को अपने कम्प्यूटर में डाउनलोड कर सकते हैं । ये वाणी न सिर्फ़ आपके दिमाग में अब तक घूमते रहे कई प्रश्नों का उत्तर देगी । बल्कि एक  मुक्तता का अहसास भी करायेगी । और तब हर कोई अपने को बेहद हल्का और आनन्द युक्त महसूस करेगा ।

12 comments:

वन्दना said...

आपकी रचनात्मक ,खूबसूरत और भावमयी
प्रस्तुति आज के तेताला का आकर्षण बनी है
तेताला पर अपनी पोस्ट देखियेगा और अपने विचारों से
अवगत कराइयेगा ।

http://tetalaa.blogspot.com/

Anita said...

अष्टावक्रगीता सुनवाने के लिये बहुत बहुत आभार!

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) said...

आपकी इस उत्कृष्ट प्रविष्टी की चर्चा कल मंगलवार के चर्चा मंच पर भी की जा रही है!
आपके ब्लॉग पर अधिक से अधिक पाठक पहुँचेंगे तो चर्चा मंच का भी प्रयास सफल होगा।

Loan NCR said...

hello please add my blog in your blog
http://www.bollywood-4u.com

काजल कुमार Kajal Kumar said...

http://kajalkumarcartoons.blogspot.com/

shubham said...

plzz add my bloggg
http://www.shubhamhappyclub.blogspot.com/

Bhagat Singh Panthi said...

when i click on "late hua 8" but there is no download link.

Anonymous said...

Interesting site. Great post, keep up all the work.

Guru said...

Where is the audio link ???????

Anonymous said...

la muerte bajo asistencia obligatoria fomenta

Anonymous said...

et de la plaie qui lui a succede.

Anonymous said...

What i don't understood is actually how you're
no longer really much more smartly-favored
than you may be right now. You're very intelligent. You recognize therefore significantly relating to this matter, produced me in my opinion believe it from so many various angles. Its like men and women don't seem to be interested except it's one thing to do with Lady gaga! Your personal stuffs nice. Always care for it up!

Feel free to visit my webpage ... page

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...