21 September 2011

मुझे सब प्यार से तोषी कहते हैं - रुनझुन

अभी गाँधीधाम गुजरात भारत में रह रही रुनझुन भी स्माल वंडर यानी स्माल ब्लागरों में से एक है । इनके ब्लाग पर इनकी शरारतों मस्तिंयों का सचित्र विवरण पूरे विस्तार से उपलब्ध है । जो बरबस ही बचपन की सुनहरी यादों में ले जाता है - और ये है रुनझुन का संसार । रुनझुन यानी प्रांजलि दीप । सबकी दुलारी । लाडली । चहेती । जिसे सब प्यार से तोषी भी बुलाते हैं । लेकिन पापा के लिये तो वो बस रुनझुन है । उनकी " जान " और " शान " और मम्मी । उनका क्या कहें । वो तो रुनझुन में बस खुद को ही जीती हैं । रुनझुन में ही उनका अपना बचपन । अपने सपने जैसे फिर से वापस आ गए हैं । रुनझुन का बेस्ट फ़्रेण्ड है । उसका प्यारा भाई - शाश्वत । जो उसके संसार को पूरा करता है । और अपने नटखट पन से उस संसार में खुशियाँ भरता है । लेकिन रुकिये । बात यहीं खत्म नही हुई । रुनझुन के संसार में और भी कई लोग हैं । जो उसकी खुशियों के साझीदार हैं । और खुश होने की वजह भी । रुनझुन अब इस संसार में आप सबको भी जोड़ना चाहती है । तो चलिये । इस ब्लॉग के माध्यम से हम सब भी बन जाते हैं - रुनझुन के दोस्त । इनका ब्लाग - रुनझुन

5 comments:

Patali-The-Village said...

रुनझुन को बहुत बहुत प्यार|

"रुनझुन" said...

अंकल मुझे यहाँ स्थान देने के लिए और यहाँ पर मेरे बारे में चर्चा करने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद!!!

Anonymous said...

Thanks for all your work.

Anonymous said...

Stanfield guerit une fausse articulation

Anonymous said...

Je mehr dieselben sich aber geltend machen,

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...