28 August 2011

प्यार में बहुत दर्द मिला - विद्या मनीषा

याद उनकी न हमारे जिगर से जाती है । किन्तु उनको तो मेरी याद नहीं आती है । जिनका दिल था कभी नाजुक फूलों जैसा । चोट पहुँचा रहा पत्थर की तरह साथी है..जैसे दिल को छू लेने वाले विचारों के साथ विद्या जी को पढना एक सुखद अहसास था ।.. उठते ज़ज्बात में सच्चाई बहुत कम होती । बहते दरिया में तो गहराई बहुत कम होती । बेवफा लहरें हमेशा ही किनारों से दूर जाती हैं ..और जैसे भावों में जीवन का सच भी । खैर..लव एवरीवडी यानी प्रत्येक से ही प्रेम करने वालीं चैन्नई निवासी श्रीमती विद्या जी से मिलना एक दिलचस्प अनुभव जैसा है । विद्या जी का उपनाम मनीषा है । जो इनकी बेटी का नाम है । यानि “ विद्या मनीषा ” । विद्या जी के पति का नाम श्री बी.विश्वनाथन है । इनकी प्रारम्भिक शिक्षा कोलकाता में सम्पन्न हुई । और वर्तमान में विद्या जी  चैन्नई के एक कैंसर उन्मूलन ट्रस्ट में कार्यरत हैं । विद्या जी अपने विचार कुछ इस तरह व्यक्त करती हैं - A simple person is having with more love..इन्होंने अपनी ब्लॉगिंग जून  2011 से चैन्नई के अपने किसी मित्र के सहयोग से शुरू की । इनका ब्लॉग - Love Everybody
सभी जानकारी और चित्र " टेस्ट चर्चा मंच " से साभार ।

9 comments:

वन्दना said...

विद्या जी से मिलवाने के लिये हार्दिक आभार्।

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) said...

आपने विद्या जी का फोटो और यह सब जहाँ से लिया है, उस ब्लॉग का भी उल्लेख आपको करना चाहिए था।
विद्या जी को बहुत-बहुत शुभकामनाएँ।

Kailash C Sharma said...

विद्या जी से परिचय करवाने के लिए आभार..शुभकामनाएं !

Kunwar Kusumesh said...

विद्या जी से मिलवाने के लिये आभार्.

जैसे ही आसमान पे देखा हिलाले-ईद.
दुनिया ख़ुशी से झूम उठी है,मना ले ईद.
ईद मुबारक

Santosh Kumar said...

Vidya ji : Very nice poetry.

Check my blogs : http://www.santoshspeaks.blogspot.com and for Hindi poetry : http ://www.belovedlife-santosh.blogspot.com.

Best wishes for Eid & Ganesh Chaturthi.

Anonymous said...

Great post, I think I can actually use this.

Anonymous said...

Le malade fut place dans les salles de medecine,

Anonymous said...

La ligature inferieure fut liee a un pouce

jee 2013 said...

Awesome sharing you have done thank you for sharing.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...