09 August 2011

पति के साथ ने उत्साह जगा दिया - मनीषा

मनीषा जी का परिचय उनके ही शब्दों में - माँ के शिक्षक होने के कारण बचपन से ही घर में पढ़ने लिखने के माहौल ने पढ़ने की आदत डाल दी । और मीडिया से जुड़े पति के साथ ने लिखने का उत्साह जगा दिया । शायद यही कारण है कि न्यूज़ में दिलचस्पी बढ़ती गयी । और पढ़ने लिखने का यह नशा ब्लागरों की दुनिया तक खींच लाया । शुरुआत में इकलौती बेटी के लालन पालन से जुडी व्यस्ताओं और घर के काम काज ने उतना समय नहीं दिया । पर अब तो दस साल की बिटिया भी ब्लागर बनने की ज़िद करने लगी है । इसलिए मेरा कंप्यूटर पर हाथ चलाना अपरिहार्य हो जाता है । वैसे मैं मध्यप्रदेश में संस्कारधानी के नाम से विख्यात जबलपुर में पली बढ़ी हूँ । और फिलहाल देश की राजधानी दिल्ली की जीवन शैली से कदम मिलाने का प्रयास कर रही हूँ । अर्थशास्त्र की छात्रा होने के बाद भी रूपए पैसे से रत्ती भर भी मोह नहीं । पर संगीत के हिसाब किताब में सिद्धहस्त हूँ । कुछ समय तक अध्यापन में भी मन लगाया । पर मज़ा नहीं आया । अब नए और रोचक विषयों को जानने और सभी को उनसे रूबरू कराने में जुटी हूँ । इनका ब्लाग - सुरंजनी

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...