02 April 2011

शिवमेवम सकलम जगत । देवेन्द्र मिश्रा

श्री देवेन्द्र मिश्रा जी ने अभी फ़रवरी से ही ब्लागिंग शुरू की है । और मुझे खुशी है कि वे जीवन की बारीकियों और संवेदनशील पक्षों को गहराई से और सूक्ष्मता से महसूस करते हैं । आध्यात्म की तरफ़ भी उनका खासा रुझान है । तो आईये । श्री मिश्रा जी का भावभीना स्वागत करते हुये उनके सूक्ष्म चिंतन पर आधारित कुछ अनमोल विचारों को जानें ।..विचारों की प्रबलता व उनके निरंतर अंधङ व शोर के कारण हमारे अवचेतन मन की सूक्ष्मदृष्टि क्षमता जाया जाती है । प्रभातबेला में पक्षियों का कलरव । चलती हवा में पत्तों की सरसराहट । सूर्य की बालकिरणों में चमकती ओस की बूँदें । बगीचे में कलियों से खिलते पुष्प । य़ा अलसाये से व अर्धनिदृत से स्कूल के लिये प्रस्थान करते मासूम बच्चे । इन मनोहरतम अद्भुत ध्वनियों व दृश्यों पर तो हमारा ध्यान भी नही पहुँच पाता । हमारे अवचेतन की सूक्ष्मदृष्टि जो एकमात्र इन मनोहरतम अद्भुत ध्वनियों को सुनने व देखने में सक्षम है । Industry..Transportation Occupation.. Electrical Engg .. Location..Bangalore..Karnataka..India ब्लाग...शिवमेवम सकलम जगत

20 comments:

: केवल राम : said...

ब्लॉग जगत में इनका स्वागत है ..आशा है यह अपने सार्थक लेखन से ब्लॉग जगत को समृद्ध करेंगे ...आपका आभार इनका परिचय करवाने के लिए

Dr Varsha Singh said...

बहुत अच्छी जानकारी दी है.......
परिचय के लिए आपका आभार .

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) said...

देवेन्द्र मिश्रा जी के उज्जवल भविष्य की कामना करता हूँ!

देवेन्द्र said...

प्रिय राजीव जी, आपका हार्दिक आभार । मेरा सदैव व सम्पूर्ण प्रयाश होगा कि आप मित्रों की अपेक्षा के अनुरूप कुछ सार्थक लिखता रहूँ ।

Patali-The-Village said...

देवेन्द्र मिश्रा जी से परिचय करवाने के लिए बहुत बहुत धन्यवाद|

Kunwar Kusumesh said...

नव-संवत्सर और विश्व-कप दोनो की हार्दिक बधाई .

Kailash C Sharma said...

हार्दिक शुभकामनायें!

राजीव थेपड़ा said...

और मज़ा यह कि अपन को इन जगहों का कोई पता ही नहीं होता..और लोग अपन तक नहीं पहुँच पाते...
http://baatpuraanihai.blogspot.com/
http://kavikeekavita.blogspot.com/

सारा सच said...

subhkaamnae

Kailash C Sharma said...

हार्दिक शुभकामनायें !

Kailash C Sharma said...

मेरे दो ब्लोग्स में से एक ब्लॉग Kashish-My Poetry blogworld.com पर नहीं दिखाई देता है. ब्लॉग का URL है sharmakailashc.blogspot.com

बवाल said...

एक बहुत ही बेहतरीन शख़्सियत से मुलाक़ात करवाने के लिए आपका बहुत बहुत आभार, राजीव भाई। आपका यह ब्लॉग हमें बेहद पसंद आ रहा है। दिन में एक मर्तबा भले ही कुछ देर के लिए सही, इस पर आने का मन ज़रूर किया करता है। बड़ा प्रयास किया है आपने ब्लॉग्स को एक मंच पर लाने का। बहुत बहुत धन्यवाद।

Kunwar Kusumesh said...

रामनवमी की हार्दिक शुभकामनायें

क्रांतिकारी हिन्दोस्तानी देशभक्त said...

www.krantikarideshsevak.blogspot.com

Prabha Tiwari said...

http://bhajgovindam1.blogspot.com

सारा सच said...

अच्छे है आपके विचार, ओरो के ब्लॉग को follow करके या कमेन्ट देकर उनका होसला बढाए ....

Jay Ram JI said...

Devendra Mishra Ji kafi achcha likhte hai. Unki samvedanshilta kafi hi tarife kabil hai.

Anonymous said...

Just to let you know your site looks a little bit strange in Opera on my laptop with Linux .

Anonymous said...

includible del progreso industrial.

Anonymous said...

la muerte bajo asistencia obligatoria fomenta

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...