27 February 2011

हर गम से बेगाना बचपन । सुरेश शर्मा । P 19

कहते हैं ।  एक चित्र बराबर हजार शब्द । मेरा मानना है । एक कार्टून बराबर हजार खुशी । हँसी । गुदगुदी । खुशियों भरी दीवाली का ऐसा ही कार्टून बम धमाका रोज करते हैं । श्री सुरेश शर्मा जी । इसी तरह होली भी एक बार आती है । पर सुरेश जी रोज ही हम सबको रंगो से सराबोर करते हैं । बस एक सलाह आपको विशेष देनी है । किसी कार्टूनिस्ट से कभी पंगा मत लेना ? वरना आपको..सारी आपका कार्टून बनते देर नहीं लगेगी । वैसे अन्दर की बात बताऊँ ? मैं खाली पीली मक्खन लगा रहा हूँ । कहीं सुरेश जी से पंगा ना हो जाय ? वरना तो सुरेश जी के कार्टून..? एकदम बोरिंग..खैर भाईयो बहनों..बुरा ना मानों..( क्योंकि ) होली ( आने वाली ) है । आगे देखिये । अपने मुँह मियाँ मिठ्ठू । सुरेश जी कैसी लम्बी लम्बी छोङ रहे हैं ।..बचपन से कार्टून बना रहा हूँ । आज भी कोशिश जारी है । विभिन्न अखबारों व पत्रिकाओं के लिए 20 000 से भी अधिक कार्टून बना चूका हूँ । दैनिक हिंदुस्तान रांची के लिए लगातार 10 वर्षों तक कार्टून बनाये । और अब दैनिक भास्कर के लिए कार्टून बनाने का कृम जारी है । 

5 comments:

सुशील बाकलीवाल said...

आभार कार्टून विधा विशेषज्ञ श्री सुरेशजी शर्मा से परिचय के लिये...

गिरधारी खंकरियाल said...

blog word.com ko dekhne par sukhad anubhav hua
gaonwasi.blogspot.com

रजनी मल्होत्रा नैय्यर said...

suresh ji ka parichay ek achhe cartoonist k rup me jankar achha laga ...aabhar

Anonymous said...

cesse et toutes les matieres stercorales etaient,

Anonymous said...

Hi there! Do you know if they make any plugins to safeguard against hackers?

I'm kinda paranoid about losing everything I've worked hard
on. Any recommendations?

Feel free to visit my blog post this site

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...